दिल्ली में मोदी हारे हैं...

Nikhil Bhushan
-Nikhil Bhushan
(फेसबुक वाल से साभार)
लीजिए माननीय नरेंद्र मोदी ने दिल्ली में प्रचार क्या किया भाजपा का वोट प्रतिशत ही गिर गया। पिछले चुनाव (2008) में जहां भाजपा को 36.84 प्रतिशत वोट मिले थे वहीं इस बार 2013 में बीजेपी को 32.76 (लगभग) प्रतिशत ही वोट मिला। यानि कुल गिरावट 4 प्रतिशत की रही। 

दिल्ली में भले ही भाजपा ने सर्वाधिक सीटें (31) जीती हो लेकिन जनता ने उसके खिलाफ भी जनादेश दिया है। अरविंद केजरीवाल की पार्टी को लगभग 23 लाख 22 हजार के आस-पास वोट पड़े हैं। पहली बार चुनाव लड़ी आप पार्टी को 29.74 (लगभग) प्रतिशत वोट मिला है। 

कांग्रेस इस बात से खुश थी कि आप से सबसे ज्यादा नुकसान बीजेपी को होगा। दांव उल्टा पड़ गया। पिछले चुनावों में 40.31प्रतिशत वोट पाने पानी कांग्रेस पार्टी को इस बार मात्र 24.24 (लगभग) प्रतिशत वोट मिला। आप ने कांग्रेस के 17 फीसदी वोट झटके हैं। एक बात और साबित हुई जहां जनता को कांग्रेस और बीजेपी से अच्छा विकल्प मिलेगा वो उसे जरुर आजमाएंगे। पिछली बार अन्य दलों को 23 फीसदी वोट मिले थे लेकिन इस बार उन्हें मात्र 13 फीसद वोट मिला। 



कुल वोटर - 1 करोड़ 19 लाख
कुल मतदान - 78, 06, 821 ( लगभग) 
भाजपा -25, 57, 863
आप- 23, 22, 417
कांग्रेस-19,33,020
अन्य दल- 09,93,521

नोटः इस बार वाले सभी आंकड़ें लगभग में है। थोड़ी फेर-बदल की संभावना है।


निखिल भूषण पत्रकार हैं, 
इनसे nikhilbhusan@gmail.com पर 
संपर्क किया जा सकता है।